कोरोना वायरस क्या है ?और क्या है इसके लक्षण | What Is Corona Virus In Hindi

Corona Virus In Hindi – चीन मे फैल रहे घातक कोरोना वायरस ने अब तक 25 लोगो की जान ले ली है और करीब 800 से अधिक लोग इसकी चपेट मे है कोरोना वायरस की स्थिति को देखते हुये विश्व स्वास्थ्य संगठन(W.H.O.) ने चीन मे इमरजेंसी की घोषणा कर दी है, दरअसल, चीन या फिर वहां के वुहान शहर से दूसरे देशों में आने वाले यात्रियों के जरिए ही यह वायरस अन्य देशों में कदम रख  रहा है।

हॉगकॉग और भारत में चीन से लौटे यात्रियों के जरिए ही इस वायरस ने कदम रखा है। इसी वजह से चीन पहले ही अपने 12 शहरों के 3.5 करोड़ से ज्यादा निवासियों के यात्रा पर प्रतिबंध लगा चुका है। कोरोना वायरस को वुहान वायरस के नाम से भी जाता है

What Is Corona Virus In Hindi

क्या है कोरोना वायरस (What Is Corona Virus In Hindi):-

कोरोना वायरस(C.O.V) का संबंध वायरस के ऐसे परिवार से है,जिसके संक्रमण से जुकाम से लेकर सांस लेने में तकलीफ जैसी समस्या हो सकती है इस वायरस को पहले कभी नहीं देखा गया|

कोरना वायरस जानवरों में भी पाया जाता है। समुद्री जीव-जंतुओं के जरिए यह वायरस चीन के लोगों में फैला। दक्षिण चीन में समुद्र के आसपास रहने वाले लोगों को सबसे पहले इस वायरस ने चपेट में लिया, जिनमें वुहान शहर है। दक्षिण चीन के बाजार जहां काफी मात्रा में समुद्री जीव मिलते हैं, उनके जरिए यह वायरस लोगों में फैला। इस बाजार में समुद्री जीव जिंदा भी मिलते हैं और उनका मांस भी मिलता है। यहीं से इस वायरस ने चीन के निवासियों को अपनी चपेट में लिया।

क्या हैं कोरोना वायरस के लक्षण (Symptoms of Corona Virus):-

इस संक्रमण के फलस्वरूप बुखार, जुकाम, सांस लेने में तकलीफ, नाक बहना और गले में खराश जैसी समस्या उत्पन्न होती हैं. यह वायरस एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैलता है. इसलिए इसे लेकर बहुत सावधानी बरती जा रही है. यह वायरस दिसंबर में सबसे पहले चीन में पकड़ में आया था. इसके दूसरे देशों में पहुंच जाने की आशंका जताई जा रही है.

कोरोना वायरस में किसी भी तरह की कोई एंटीबायोटिक काम नहीं करती है। फ्लू में दी जाने वाली एंटीबायोटिक भी इस वायरस में काम नहीं करती है। अस्पताल में भर्ती कराए जाने वाले व्यक्ति के अंगों को फेल होने से बचाने के लिए उसे ज्यादा से ज्यादा मात्रा में तरल पदार्थ दिया जाता है।

जानवरों से फैलने वाले कोरोना वायरस सिवीर एक्यूट रेस्परटॉरी सिंड्रोम (गंभीर श्वसन लक्षण) और मिडिल इस्टर्न रेस्परटॉरी सिंड्रोम दोनों तरह का होता है। मिडिल इस्टर्न रेस्परटॉरी सिंड्रोम (मेर्स) अफ्रीकी और शियाई ऊटों के जरिए मनुष्य में फैलता है। चमगादड़ ऐसा जीव है जिसमें सिवीर एक्यूट रेस्परटॉरी सिंड्रोम (गंभीर श्वसन लक्षण) और मिडिल इस्टर्न रेस्परटॉरी सिंड्रोम दोनों तरह का कोरोनो वायरस होता है।

क्या हैं इस वायरस के बचाव के उपाय (Corona Virus Prevention):-


स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने कोरोना वायरस से बचने के लिए दिशानिर्देश जारी किए हैं. इनके मुताबिक, हाथों को साबुन से धोना चाहिए. अल्‍कोहल आधारित हैंड रब का इस्‍तेमाल भी किया जा सकता है. खांसते और छीकते समय नाक और मुंह रूमाल या टिश्‍यू पेपर से ढककर रखें. जिन व्‍यक्तियों में कोल्‍ड और फ्लू के लक्षण हों उनसे दूरी बनाकर रखें. अंडे और मांस के सेवन से बचें. जंगली जानवरों के संपर्क में आने से बचें


अगर आपको यह पोस्ट अच्छी लगी तो इसे अपने दोस्तों के साथ फेसबुक, व्हाट्सएप पर शेयर करना ना भूलें। नई पोस्ट की सूचनाएं सबसे पहले पाने के लिए, लाल रंग के आइकन को दबाकर हमारी वेबसाइट की सदस्यता लें। वेबसाइट की सदस्यता बिल्कुल मुफ्त है। अगर आप हमारी वेबसाइट को सब्सक्राइब करते हैं तो आपको अपने फ़ोन और कंप्यूटर पर हमारी नयी पोस्ट सबसे पहले प्राप्त होगी ।

हमारे फेसबुक पेज को भी लाइक जरूर करे। सभी पीडीएफ जो यहां प्रदान किए गए हैं, केवल शिक्षा के उद्देश्य से हैं। कृपया उन्हें अपने ज्ञान के निर्माण के लिए उपयोग करें और उन्हें वाणिज्यिक न बनाएं।

हम आपसे हमारी कड़ी मेहनत का सम्मान करने का अनुरोध करते हैं। हम यहां सबकुछ नि: शुल्क प्रदान कर रहे हैं। Sarkariguides.com यहां किसी भी सेवा के लिए कोई शुल्क नहीं लेगा। यदि आप UPSC क्षेत्र में नए हैं, तो हम आपको बेहतर समझ के लिए UPSC Prelims और UPSC Mains और UPSC वैकल्पिक और टेस्ट सीरीज़ [Prelims / Mains] और पत्रिका के बारे में जानने की सलाह देते हैं।

हमारे सभी विज्ञापन निर्णायक विज्ञापन हैं [हम गुणवत्ता में कोई समझौता नहीं करते हैं] और यदि किसी को वेबसाइट या विज्ञापनों से कोई समस्या है, तो कृपया मुझसे संपर्क करें sarkariguides@gmail.com .

Sarkariguides.com इस पुस्तक का मालिक नहीं है, न ही इसे बनाया गया है और न ही इसे प्रतिबंधित किया गया है। हम सिर्फ इंटरनेट पर पहले से उपलब्ध लिंक प्रदान कर रहे हैं। अगर किसी भी तरह से यह कानून का उल्लंघन करता है या कोई मुद्दा है तो कृपया हमसे संपर्क करें। धन्यवाद।

Leave a Comment